मौजमाबाद की कई आंगनबाड़ियों में अनियमितता का आरोप

मौजमाबाद की कई आंगनबाड़ियों में अनियमितता का आरोप

दूदू/जयपुर। राजस्थान सरकार द्वारा कोरोना वायरस के प्रभाव को देखते हुए आंगनबाड़ी के माध्यम से लगभग 35 लाख लाभार्थियों को दाल गेहूं के रूप में साबुत अनाज दिए जाने का निर्णय लिया गया था।

इस योजना के अंतर्गत हर परिवार को 1 किलो दाल एवं 2 से 3 किलो गेहूं दिया जाना निर्धारित किया गया है। ये खाद्य सामग्री महिला एवं बाल विकास विभाग के अधीन समेकित बाल विकास सेवाएं योजनान्तर्गत पूरक पोषाहार की आपूर्ति एवं वितरण हेतु खाद्य सुरक्षा अधिनियम 2013 के प्रावधानों की पालना के तहत आंगनबाड़ी केंद्रों के माध्यम से उपलब्ध करवाई जाएगी। कोरोना के दौरान ये सामग्री लाभार्थियों को टेक होम के माध्यम से दिया जाना प्रस्तावित किया गया था।

शिकायत के अनुसार दूदू की मौजमाबाद इलाके की आंगनबाड़ियों में निर्धारित मानक से कम राशन सामग्री वितरित की जा रही है। शिकायत कर्ता ने इस मामले की शिकायत दूदू के एसडीएम कार्यालय में एक पत्र के माध्यम से भिजवा दी है।

सभी अपडेट के लिए हमें Facebook और Twitter पर फ़ॉलो करें

राष्ट्र निर्माण में सहयोग के लिए करें. (9887769112)
हमारी स्वतंत्र पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करे



Leave a Comment