स्टडी में दावा- दिनभर बैठे रहने से होने वाली समस्या खतरनाक, इसे एक्सरसाइज से टाला जा सकता है

स्टडी में दावा- दिनभर बैठे रहने से होने वाली समस्या खतरनाक, इसे एक्सरसाइज से टाला जा सकता है


Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

15 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

ग्रेटचेन रेनाल्ड्स. हम में से कई लोग ऑफिस, कॉलेज, शॉप या किसी भी काम के सिलसिले में लगातार बैठते होंगे। लगातार बैठकर काम करने से आपकी हेल्थ पर असर पड़ता है। कोरोना के समय लगे प्रतिबंध, वर्क फ्रॉम होम में लोग सामान्य से ज्यादा लगातार बैठकर काम कर रहे हैं।

अमेरिका में हाल ही में हुई एक स्टडी में दावा किया गया है कि अगर एक दिन में सिर्फ 11 मिनट पैदल चलते या टहलते हैं तो यह आपको कई तरह की परेशानियों से बचाता है। यह स्टडी 10 हजार लोगों पर की गई। इसमें हर एक व्यक्ति से पूछा कि उसने अपना पूरा दिन कैसे बिताया?

इसमें पाया गया कि जो लोग बिल्कुल नहीं चलते उनमें कम उम्र में मरने का जोखिम ज्यादा रहता है। साथ ही जो लोग थोड़ा बहुत भी घूमते हैं, उन पर इस तरह का कोई जोखिम कम हो जाता है। एक सर्वे में सामने आया है कि पिछले साल की तुलना में कोरोना के समय लोगों में एक्सरसाइज की आदत कम हुई और बैठे रहने की आदत बढ़ी है।

बैठे रहने से होने वाले जोखिम से अच्छा है एक्टिव रहें

  • एक्सपर्ट्स के मुताबिक, लंबे समय तक बैठे रहने से कई तरह की समस्याएं हो सकती हैं। मोटापा, ब्लड प्रेशर और बैक पेन तो बहुत ही आम है। अगर आप आठ घंटे बैठे रहकर काम करते हैं, तो शाम के वक्त आधा घंटा जरूर टहलें। इससे फैट बर्न होता है और ब्लड प्रेशर समेत शरीर की कई चीजें सामान्य रहती है।
  • 2016 में हुई एक रिसर्च का दावा है कि बैठे रहने से होने वाले असर से बचने के लिए कम से कम 60 से 75 मिनट एक्सरसाइज करें। यह रिसर्च एक मिलियन से ज्यादा लोगों पर की गई थी।
  • रिसर्च में पाया गया कि ज्यादातर लोग ज्यादा बैठने के बाद भी एक्सरसाइज पर ध्यान नहीं देते। जिसके चलते मोटापा और हाइपरटेंशन जैसी समस्याएं बढ़ती जा रही हैं।
  • फिट और एक्टिव रहने के लिए एक्सरसाइज करना बेहद जरूरी है। अगर आप इसके लिए ज्यादा समय नहीं निकाल पा रहे हैं तो कम ही सही लेकिन एक्सरसाइज हर सूरत में फायदेमंद है।

यह भी पढ़ें- छोटे बच्चों को 10 से 15 मिनट पैदल चलाएं, जानिए बच्चों को बाहर खेलने या घूमने के लिए कैसे करें तैयार…

साइंटिस्टों का क्या कहना है?

  • वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गेनाइजेशन के अपडेटेड फिजिकल गाइडलाइन को लेकर की गई एक स्टडी पिछले हफ्ते ब्रिटिश जर्नल ऑफ स्पोर्ट्स मेडिसिन में प्रकाशित हुई। रिपोर्ट के मुताबिक, एक्सरसाइज को लेकर लोग बहुत गंभीर नहीं हैं। इसलिए पहले की रिसर्च में सामने आई बातों के मद्देनजर सुझाई गई जरूरी एक्सरसाइज को करना चाहिए।
  • वैज्ञानिकों ने पिछली स्टडी को एनलाइज किया। उन्होंने पाया कि इसमें 50 हजार लोगों को शामिल किया गया था। पिछली स्टडी के परिणामों को एनलाइज करते हुए वैज्ञानिकों ने पाया कि इस स्टडी में शामिल 50 हजार लोगों में से ज्यादातर लोग एक दिन में औसतन 10 घंटे बैठने वाले थे। जो जरूरत पड़ने पर ही अपनी जगह से 2 से 3 मिनट के लिए उठते थे।
  • इस स्टडी में वैज्ञानिकों ने पाया कि जिन लोगों ने दिन में 11 मिनट भी एक्सरसाइज की, उनमें समय से पहले मरने का खतरा कम था। भले ही वह ऐसे लोगों में शामिल थे, जो कम चले या बैठे रहे।
  • शोधकर्ताओं ने पाया कि अगर आप दिन में 35 मिनट भी एक्सरसाइज या घूमने के लिए समय निकालते हैं, तो यह फायदेमंद है। इससे फर्क नहीं पड़ता कि आप कितने घंटे बैठे रहे हैं?
  • हालांकि यह स्टडी ऑब्जर्वेशन पर आधारित थी। इसमें बस फिजिकल एक्टिविटी, बैठे रहना और मृत्यु दर को जोड़ा गया।

यह भी पढ़ें- फ्लू की वैक्सीन लें, बच्चों का ध्यान रखें; इन 5 तरीकों से कोरोना रोक सकते हैं…

यह भी पढ़ें- अस्थमा और माइग्रेन के पीड़ित ज्यादा सावधानी बरतें, जानें सर्दियों में स्वस्थ रहने के उपाय…

थोड़ा चलना भी फायदेमंद साबित हो सकता है

  • नार्वे स्कूल ऑफ स्पोर्ट्स साइंसेस के एपिडेमोलॉजी और फिजिकल एक्टिविटी के प्रोफेसर उल्फ एकेलुंड का कहना कि पूरे दिन बैठे रहने वाले लोगों को थोड़ा-बहुत उठकर चलना चाहिए। थोड़ा चलना भी एक अच्छी एक्सरसाइज है। आधा घंटे या उससे कम एक्सरसाइज हमारी लाइफ और उम्र को बढ़ाने में मदद कर सकती है।



Source link

सभी अपडेट के लिए हमें Facebook और Twitter पर फ़ॉलो करें

राष्ट्र निर्माण में सहयोग के लिए करें. (9887769112)
हमारी स्वतंत्र पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करे



Leave a Comment