हरियाणा-राजस्थान से सटे पंजाब के कई जिलों में टिडि्डयों के हमले को लेकर अलर्ट जारी

हरियाणा-राजस्थान से सटे पंजाब के कई जिलों में टिडि्डयों के हमले को लेकर अलर्ट जारी


  • कृषि और किसान कल्याण विभाग के सचिव काहन सिंह पन्नू की तरफ से पत्र जारी किया गया
  • कड़े निर्देश-अफसरों को छुट्टी वाले दिन भी दफ्तरों में रहना होगा, न ही अग्रिम छुट्टी मिलेगी

दैनिक भास्कर

Jul 13, 2020, 06:32 PM IST

बठिंडा/संगरूर. पंजाब में एक बार फिर टिड्‌डी दल के आने का खतरा मंडराने लग गया है। आशंका है कि देश के कई राज्यों में फसलों को नुकसान पहुंचाने के बाद अब किसी भी वक्त राजस्थान के चूरू और हरियाणा के सिरसा से पंजाब की सरहद के साथ लगते इलाकों में टिड्डी दल का हमला हो सकता है। ऐसे में पंजाब सरकार की तरफ से इन दोनों राज्यों की सीमाओं से लगते बठिंडा, संगरूर, मानसा, फाजिल्का और बरनाला आदि जिलों में अलर्ट जारी कर दिया है।
पंजाब के पड़ोसी राजस्थान और हरियाणा में इस टिड्डी दल ने काफ़ी फसलों को नुक्सान पहुंचाया है। इसको मुख्य रखते हुए 4 जिलों को हाई अलर्ट पर रखा गया है, जिससे टिड्डी दल के ऐसे किसी भी संभावित हमले पर काबू पाया जा सके और फसलों को ख़राब होने से बचाया जा सके। 
कृषि और किसान कल्याण विभाग के सचिव काहन सिंह पन्नू की तरफ से जारी एक पत्र में हरियाणा व राजस्थान से सटे इलाकों में जिलास्तर पर गठित की टीम की हाई अलर्ट पर के निर्देश जारी किए गए हैं। काहन सिंह पन्नू ने कृषि अफसरों को हिदायतें जारी की है कि टिड्डी दल के संभावित हमले को देखते किसी भी अधिकारी को अग्रिम छुट्टी की नहीं दी जाएगी। छुट्टी वाले दिन भी आधिकारियों को दफ्तरों में मौजूद रहने के लिए कहा है। 
इस बारे में पुष्टि करते हुए संगरूर के मुख्य कृषि अफसर डॉ. जसविंदर पाल सिंह ग्रेवाल ने बताया कि हवा की दिशा और इन जिलों की हद हरियाणा के साथ लगने कारण टिट्टी दल के संभावी हमले को रोकने के लिए कृषि विभाग की तरफ से सभी प्रबंध किए गए हैं। आम लोगों को भी जागरूक किया जा रहा है कि टिड्डी दल के आने दिखाई देने या बैठने वाली जगह की जानकारी तुरंत कृषि विभाग को दी जाए।



Source link

सभी अपडेट के लिए हमें Facebook और Twitter पर फ़ॉलो करें

राष्ट्र निर्माण में सहयोग के लिए करें. (9887769112)
हमारी स्वतंत्र पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करे



Leave a Comment