अभियुक्त को एक साल कारावास व तीन लाख रूपए जुर्माना

जयपुर। राजधानी की एक अदालत ने चैक बाउंस के मामले मे अभियुक्त को एक वर्ष के कारावास तथा तीन लाख के जुर्माने की सजा जुनाई है। शहर की न्यायालय अतिरिक्त मुख्य महानगर मजिस्टेट (ए.सी.एम.एम.) क्रम 18 जयपुर महानगर मुख्यालय आमेर ने तेजकरण सैनी बनाम लक्ष्मीनारायण सैनी परिवाद पर यह आदेश दिया है।

ए.सी.एम.एम. क्रम 18 आमेर ने चैक बाउंस मामले में अभियुक्त लक्ष्मीनारायण सैनी मेहस्या की धाणी, पीली की तलाई, आमेर निवासी को एक साल के साधारण कारावास और तीन लाख रूपए जुर्माने की सजा सुनाई है। कोर्ट ने अभियुक्त को निर्देश दिया है कि वह जुर्माना राशि कोर्ट में जमा कराए। कोर्ट ने यह ओदश परिवादी तेजकरण के परिवाद पर दिया।

परिवादी के अधिवक्ता ताडकेश्वर शर्मा ने बताया कि परिवादी से आरोपी ने घरेलू व व्यक्तिगत आवश्यकताओं के लिए एक लाख 80 हजार रूपए उधार लिए थे। रूपए लौटाने के लिए जो चैक दिया वह बाउंस हो गया।

सभी अपडेट के लिए हमें Facebook और Twitter पर फ़ॉलो करें

राष्ट्र निर्माण में सहयोग के लिए करें. (9887769112)
हमारी स्वतंत्र पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करे



Leave a Comment