अफगान डिप्टी गर्वनर किडनैप, मेडकिल ट्रीटमेंट के लिए पहुंचे थे पाकिस्तान

इस्लामाबाद। अफगानिस्तान के कुनुर प्रांत के डिप्टी गर्वनर नबी अहमदी को पाकिस्तान के खैबर पख्तूनक्वा से अगवा कर लिया गया। अहमदी मेडिकल ट्रीटमेंट के लिए सड़क के रास्ते बॉर्डर क्रॉस कर पेशावर आए थे। इधर, पाकिस्तान पुलिस का कहना है कि अफगान गर्वंमेंट ने उन्हें अहमदी के विजिट की कोई जानकारी नहीं दी थी, जिसके चलते हम उन्हें सिक्युरिटी नहीं दे पाए।

पुलिस के मुताबिक, अहमदी अपने भाई के साथ पेशावर पहुंचे थे और रोड किनारे भाई के साथ पैदल चल रहे थे, तभी में कार में सवार अज्ञात बंदूकधारियों ने उन्हें कार में खींच लिया। अहमदी के भाई ने पेशावर पुलिस को पूरे घटनाक्रम की जानकारी दी। हालांकि, इसके बाद भी उन्होंने ये नहीं बताया कि उनके भाई अफगान प्रॉविन्शियिल गर्वंमेंट में बड़े अफसर हैं। इसके बाद कुनुर गर्वनर यानी अहमदी के स्पोक्समैन ने पेशावर में उनकी किडनैपिंग की पुष्टि की और बताया कि वो मेडिकल ट्रीटमेंट के लिए वहां गए हुए थे। पुलिस का कहना है कि अफगान सरकार ने अगर उन्हें अहमदी के आने की जानकारी दी होती, तो उन्हें सुरक्षा देते और ऐसी घटना नहीं होती।

इधर, पेशावर में अफगानिस्तान के राजदूत मोइन ने कहा,”हमने इसकी सूचना काबुल सरकार और पाकिस्तान को भी दे दी है। हमें उम्मीद है कि उन्हें जल्द ही बचा लिया जाएगा।” अफगान तालिबान ने किडनैपिंग में हाथ होने से इनकार कर दिया है। इसके पीछे कुछ निजी विवाद बताए जा रहे हैं। फिलहाल, पुलिस अहमदी की तलाश कर रही है।

 

सभी अपडेट के लिए हमें Facebook और Twitter पर फ़ॉलो करें

सभी अपडेट के लिए हमें Facebook और Twitter पर फ़ॉलो करें

राष्ट्र निर्माण में सहयोग के लिए करें. (9887769112)
हमारी स्वतंत्र पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करे



Leave a Comment